कच्चे तेल की हालिया तेजी से थम जाएगी पेट्रोल, डीजल में गिरावट

January 05 2019

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह कच्चे तेल के भाव में करीब 10 फीसदी तेजी आई है, जिसके बाद आने वाले दिनों में पेट्रोल के दाम में राहत मिलने का सिलसिला थम सकता है। तेल विपणन कंपनियों ने शनिवार को लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती की, मगर कच्चे तेल के दाम में नए साल में आए जबरदस्त उछाल के बाद विशेषज्ञ बताते हैं कि आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में गिरावट का सिलसिला बहरहाल थम जाएगा। एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट (ईनजी व करेंसी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने कहा कि कच्चे तेल के दाम में आगे और तेजी आने की सूरत में डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट आ सकती है और पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि हो सकती है। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में चढ़ाव-उतार का असर पेट्रोल, डीजल के दाम पर करीब 10 दिन बाद ही आता है। 

गुप्ता ने कहा, "ऑर्गनाइजेशन ऑफ पेट्रोलियम एक्सपोर्टिग कंट्रीज (ओपेक) और गैर-ओपेक तेल उत्पादक रूस ने तेल के दाम में गिरावट को थामने के लिए पिछले महीने 12 लाख बैरल रोजाना कटौती करने की घोषणा की थी, जो एक जनवरी से लागू है। इसके अलावा, अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक मुद्दों को लेकर टकराव की स्थिति में सुधार होने से तेल की खपत बढ़ने की उम्मीद है। लिहाजा, तेल के दाम में तेजी का रुख है।"

उन्होंने कहा कि हालांकि अमेरिकी एजेंसी इनर्जी इन्फोर्मेशन एडमिनिस्ट्रेशन (ईआईए) की शुक्रवार की रपट के मुताबिक, अमेरिका में तेल का भंडार पिछले सप्ताह 69 लाख बैरल बढ़ गया है। इस रपट के बाद कच्चे तेल के दाम में तेजी पर हल्का ब्रेक जरूर लगा, लेकिन आगे तेजी की संभावना बनी हुई है। 

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई तेजी से शुक्रवार के घरेलू वायदा बाजार में भी लगातार तेजी का रुख बना रहा। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर कच्चे तेल का जनवरी वायदा अनुबंध सप्ताह के अंतिम कारोबारी सत्र में पिछले सत्र के मुकाबले 74 रुपये यानी 2.25 फीसदी की बढ़त के साथ 3,359 रुपये प्रति बैरल पर बना हुआ है। एमसीएक्स पर इस सप्ताह कच्चे तेल के भाव में करीब छह फीसदी की तेजी आई।

विदेशी वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर बेंट क्रूड के मार्च डिलीवरी अनुबंध में 2.61 फीसदी की तेजी के साथ 57.41 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ, जबकि कारोबार के दौरान 58.30 डॉलर प्रति बैरल तक का उछाल आया। ब्रेंड क्रूड का भाव पिछले सप्ताह 52.20 डॉलर पर बंद हुआ था। इस प्रकार, इस सप्ताह ब्रेंड क्रूड के भाव में 9.98 फीसदी का उछाल आया। अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के फरवरी डिलीवरी अनुबंध में शुक्रवार को 49.22 डॉलर से फिसलने के बाद 2.59 फीसदी की बढ़त के साथ 48.31 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल की कीमतें क्रमश: 68.29 रुपये, 70.43 रुपये, 73.95 रुपये और 70.85 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं।

चार महानगरों में डीजल के दाम में क्रमश: 62.26 रुपये, 64.03 रुपये, 65.14 रुपये और 65.72 रुपये प्रति लीटर दर्ज किए गए हैं। 


वहीं, विदेशी वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर बेंट क्रूड के मार्च डिलीवरी अनुबंध में 2.23 फीसदी की तेजी के साथ 57.20 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के फरवरी डिलीवरी अनुबंध में 2.02 फीसदी की बढ़त के साथ 48.04 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।

अनुज गुप्ता ने कहा कि अमेरिकी एजेंसी इनर्जी इन्फोरमेशन एडमिनिस्ट्रेशन (ईआईए) द्वारा शुक्रवार को जारी किए जाने वाले आंकड़ों में अगर कच्चे तेल के भंडार में ज्यादा कमी होगी तो तेल के दाम को और सपोर्ट मिलेगा। 

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR