स्वास्थ्य, शिक्षा में सुधार आप की विरासत होगी : सत्येंद्र जैन

February 13 2017
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि स्वास्थ्य और शिक्षा में सुधार दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार की विरासत होगी, जिसके लिए यह जानी जाएगी। सत्येंद्र जैन (49) ने कहा कि आप का प्रमुख ध्यान दो क्षेत्रों पर है, जिससे राजनीतिक दलों की बहस में बदलाव होगा और दूसरी पार्टियों को उनके बारे में बात करने को मजबूर होना पड़ेगा। अपने आवास पर जैन ने आईएएनएस के साथ साक्षात्कार में कहा, "यह बदलाव आप की विरासत का एक हिस्सा होगा। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई दिल्ली सरकार की सीमित शक्तियों के बावजूद भी उतनी ही महत्वपूर्ण है।" आप सरकार अरविंद केजरीवाल की अगुवाई में 14 फरवरी को तीसरे साल में प्रवेश कर जाएगी। साल 2015 में इसी दिन आप ने दूसरी बार राष्ट्रीय राजधानी में सत्ता संभाली थी। इस चुनाव में आप को विधानसभा की 70 सीटों में से 67 पर जीत हासिल हुई थी। केजरीवाल के भरोसेमंद कहे जाने वाले जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार का ध्यान बेहतरीन स्कूली शिक्षा और मुफ्त स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने पर है। सरकार ने 100 मोहल्ला क्लिनिकों की स्थापना की है, जहां दवाएं, चिकित्सा परीक्षण और चिकित्सकों की सलाह निशुल्क उपलब्ध है। सरकार की योजना 31 दिसंबर तक इस तरह के 1,000 क्लिनिकों के निर्माण की थी, लेकिन ऐसा नहीं किया जा सका। अब इसके लिए 31 मार्च का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। लेकिन तब तक सभी के कार्य शुरू कर देने की संभावना नहीं है। इन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा सरकार की योजना 150 पॉलीक्लिनिक स्थापित करने की भी है। आप के संस्थापक सदस्य और पेशे से वास्तुकार जैन ने कहा कि इन क्लिनिकों को स्थापित करने के पीछे उद्देश्य बहुत गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों को देखना है, जिन्हें पहले से भरे हुए भारी भीड़ वाले अस्पतालों में जाना पड़ता है। जैन ने कहा, "विकसित और पिछड़े देशों के बीच मुख्य अंतर स्वास्थ्य गुणवत्ता और शैक्षिक सुविधाओं की उपलब्धता है। हमारा मकसद सभी को (गरीब या अमीर) मुफ्त गुणवत्तापरक (स्कूल) शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना है।" उन्होंने कहा, "यदि देश के लोग स्वस्थ और अच्छी तरह शिक्षित होंगे तो वे शासकों को शासन सहित दूसरे मुद्दों को सही तरीके से हल करने के लिए मजबूर करेंगे।"

FEATURE

MOST POPULAR