टेस्ट क्रिकेट में भी आक्रामक शैली में बदलाव नहीं करूंगा : एरॉन फिंच

May 03 2018

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

आस्ट्रेलिया के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच का मानना है कि अगर टेस्ट क्रिकेट में उन्हें मौका मिला तो भी वह अपनी आक्रामक शैली में बदलाव नहीं करेंगे। 

फिंच ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में विस्फोटक बल्लेबाजी के कारण अपनी एक अलग पहचान बनाई है। आईपीएल के इस 11वें संस्करण में भी किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं। 

फिंच को टेस्ट क्रिकेट में अभी तक मौका नहीं दिया गया है।

फिंच ने आईएएनएस को दिए साक्षात्कार में कहा, "आपको हमेशा अपने स्वाभाविक खेल पर भरोसा करना चाहिए। जब आप दबाव में होते हैं तब भी आपको स्वाभाविक खेल खेलना चाहिए। मैं क्रिकेट में अपने आक्रामक खेल की वजह से ही सफल हो पाया हूं और मुझे नहीं लगता कि मुझे टेस्ट क्रिकेट में अपनी शैली में बदलाव करने की जरूरत है।"

फिंच इस बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में पंजाब की टीम का हिस्सा हैं। पंजाब की टीम ने इस सत्र में अब तक शानदार प्रदर्शन किया है और सात में से पांच मैच जीतकर अंकतालिका में तीसरे पायदान पर काबिज है।

उन्होंने कहा कि पंजाब इस सत्र में एक बेहतर टीम बनकर उभरी है और टीम ने आक्रामक खेल दिखाया है जिसके कारण वह टूर्नामेंट जीतने की प्रबल दावेदार भी है। 

फिंच ने कहा, "मैं समझता हूं कि इस सत्र हमने आक्रामक खेल दिखाया है जिसका हमें काफी लाभ मिला है। टूर्नामेंट के शुरुआत से ही टीम की बल्लेबाजी एवं गेंदबाजी में आक्रामकता रही और हमने पावरप्ले में भी अधिक रन बनाए जिसके कारण हम इस स्थिति में हैं।"

फिंच ने कहा, "अनुभवी खिलाड़ियों के होने से भी इस सत्र में हमारी टीम बदली हुई नजर आ रही है। रविचंद्र अश्विन एवं क्रिस गेल जैसे खिलाड़ी हमारी टीम में मौजूद है जिन्हें 100 से भी अधिक टी-20 मैच खेलने का अनुभव है। गेल ने भी इस टूर्नामेंट में लगातार रनों की बौछार की है जिससे हमें लाभ हुआ। टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों के मिश्रण ने हमें टूर्नामेंट जीतने का प्रबल दावेदार बनाया है।"

यह पूछे जाने पर कि क्या वह क्रिस गेल से साथ टीम के लिए सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाना चाहेंगे, फिंच ने कहा, "मुझे लगाता है कि गेल और लोकेश राहुल ने सलामी जोड़ी के तौर पर दमदार बल्लेबाजी की है। जब भी उन्होंने हमें अच्छी शुरुआत दिलाई है, हम मैच जीतने में कामयाब रहे हैं। गेल एक महान बल्लेबाज तो हैं ही, राहुल भी उसी राह पर आगे बढ़ रहे हैं। मुझे अगर सलामी बल्लेबाज के तौर पर मौका मिलता है तो मुझे खुशी होगी, लेकिन मैं किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हूं।"

उन्होंने एक कप्तान के रूप में अश्विन की भी प्रशंसा की और यह भी माना कि उन्हें अश्विन से बहुत कुछ सीखने को मिला है।

फिंच ने कहा, "अश्विन ने अभी तक अच्छी कप्तानी की है। वह मैदान पर भी संयम बनाए रखते हैं और ऐसा इसलिए है क्योंकि वह काफी वर्षो तक महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में खेले हैं। धौनी भी मैदान पर कभी अपना संयम नहीं खोते और अश्विन ने भी ऐसा ही किया है जिससे टीम को बहुत लाभ हुआ है। वह एक उदाहरण की तरह खुद को पेश कर रहे हैं जिससे मुझे भी बहुत कुछ सीखने को मिला है।"

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR