पोंटिंग, गांगुली जानते हैं कि मैच विजेता कैसे बनाते हैं : शिखर धवन

April 30 2019

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

 छह साल खराब प्रदर्शन और फिर नाम बदलने के बाद दिल्ली कैपिटल्स ने आखिरकार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर ही लिया।


दिल्ली ने रविवार को अपने घर फिरोज शाह कोटला मैदान पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 16 रनों से मात दे छह साल बाद प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया है।


इससे पहले दिल्ली ने 2012 में वीरेंद्र सहवाग की कप्तानी में प्लेऑफ में जगह बनाई थी, लेकिन इसके बाद टीम का प्रदर्शन कभी इस तरह का नहीं रहा था कि वह प्लेऑफ में जगह बना पाए। इस साल दिल्ली ने कहानी बदली और वह 12 मैचों में 16 अंक हासिल करते हुए अंतिम-4 में पहुंचने वाली इस सीजन की दूसरी टीम बन गई है। 


दिल्ली की इस सफलता में टीम के सलामी बल्लेबाज श्रेयस अय्यर का अहम योगदान रहा है। बेशक इस सीजन कोलकाता नाइट राइडर्स के आंद्रे रसेल और मुंबई इंडियंस के हार्दिक पांड्या की आतिशी बल्लेबाजी चर्चा में रही है, लेकिन धवन ऐसे बल्लेबाज रहे हैं जो चुप चाप अपने बल्ले से रन बनाते हुए दिल्ली को प्लेऑफ में ले गए। धवन ने अभी तक खेले 12 मैचों में 451 रन बनाए हैं। 


धवन से जब इस सीजन दिल्ली की सफलता का कारण पूछा गया तो उन्होंने इसका श्रेय टीम के कोचिंग स्टाफ में शामिल दो दिग्गजों- सौरभ गांगुली और रिकी पोंटिंग को दिया। 


धवन ने आईएएनएस से साक्षात्कार में कहा, "टीम की सफलता में कोच काफी अहम किरदार निभाते हैं। पोंटिंग और दादा (गांगुली) के रूप में हमारे पास दो ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने कप्तान रहते हुए अपनी टीमों को सफलता दिलाई है। वह जानते हैं कि किस तरह से रणनीति बनानी हैं। वह जानते हैं कि किस तरह से खिलाड़ी तैयार करने हैं और उन्हें आत्मविश्वास देना है।"


धवन कहते हैं कि टीम का सफलता का राज तीनों क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन है और इसी कारण टीम अंकतालिका में मजबूत स्थिति में बैठी है। 


उन्होंने कहा, "टीम काफी संतुलित है। टीम की बल्लेबाजी तथा गेंदबाजी दोनों में अच्छे खिलाड़ी हैं। शीर्ष क्रम में भारतीय खिलाड़ी ऋषभ पंत, पृथ्वी शॉ, मैं और कप्तान श्रेयस अय्यर अच्छा कर रहे हैं। साथ ही विदेशी खिलाड़ियों ने भी अच्छा किया है। टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है। ईशांत शर्मा ने भी अच्छी गेंदबाजी की है। यह सफलता पूरी टीम के योगदान का नतीजा है।"


धवन इससे पहले सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेल रहे थे, लेकिन इस सीजन उन्होंने दिल्ली की फ्रेंचाइजी में वापसी की जो उनका घर भी है। धवन ने कहा कि दिल्ली वापस आने से उन्हें काफी प्ररेणा मिली। इससे पहले धवन लीग के पहले सीजन में दिल्ली से खेले थे। तब टीम दिल्ली डेयरडेविल्स के नाम से जानी जाती थी। 


बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, "टीम का आत्मविश्वास काफी ऊंचा है। मैं इस समय जिस फॉर्म में हूं उसका लुत्फ उठा रहा हूं। मैं 11 साल बाद टीम के साथ हूं, यह मेरे लिए खुशी की बात है। टीम अच्छा कर रही है और इससे खुशी में इजाफा हुआ है।"

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR