नई मारूति स्विफ्ट में क्या है अच्छा और कहां रह गई कमी, जानिये यहां

February 12 2018

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

मारूति की नई स्विफ्ट हैचबैक इन दिनों खासी चर्चाओं में है। इसे फरवरी में आयोजित होने वाले ऑटो एक्सपो-2018 में लॉन्च किया जाएगा। यह मौजूदा मॉडल से थोड़ी महंगी हो सकती है। नई स्विफ्ट में क्या खासियतें समाई हैं और इस में कहां कमियां रह गई हैं, इसके बारे में जानेंगे यहां…

नई स्विफ्ट को पसंद करने की वजह

फन-टू-ड्राइव

2018 मारूति स्विफ्ट को मजबूत पर कम वज़नी हियरटेक प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। इस में स्टिफर सस्पेंशन सेटअप दिया गया है, इस वजह से इसे तेज रफ्तार में भी आसानी से टर्न किया जा सकता है। फन-टू-ड्राइव की चाहत रखने वालों के लिए ये अच्छा विकल्प साबित हो सकती है।

ऑटोमैटिक गियरबॉक्स

नई स्विफ्ट में पेट्रोल और डीज़ल दोनों इंजनों के साथ ऑटोमैटेड मैनुअल ट्रांसमिशन (एएमटी) का विकल्प मिलेगा। ऑटोमैटिक गियरबॉक्स आने के बाद ना केवल इसे सिटी के ट्रैफिक में चलाना आसान होगा, बल्कि हाइवे पर भी ये अच्छी रफ्तार पकड़ेगी।

जगहदार केबिन

नई स्विफ्ट की चौड़ाई और व्हीलबेस को बढ़ाया गया है, इस वजह से इसके केबिन में पुराने मॉडल से ज्यादा स्पेस मिलेगा। नई स्विफ्ट पहले से करीब 40 एमएम ज्यादा चौड़ी होगी। वहीं इसका व्हीलबेस पहले से करीब 20 एमएम ज्यादा बड़ा होगा। छह फिट लंबे व्यक्ति को केबिन में बैठने पर कोई परेशानी नहीं होगी। इसका बूट स्पेस 268 लीटर है। पहले की तुलना में इसका बूट स्पेस 58 लीटर ज्यादा बड़ा है।

फीचर

नई स्विफ्ट में डे-टाइम रनिंग एलईडी लाइटें, एलईडी प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, लैदर वाला स्टीयरिंग व्हील, ऑटो हैडलैंप्स, पुश-बटन स्टार्ट, स्मार्ट की, ऑटो क्लाइमेट कंट्रोल और 6-स्पीकर्स वाला साउंड सिस्टम मिलेगा। टॉप वेरिएंट जेड प्लस में एंड्रॉयड ऑटो, एपल कारप्ले और मिररलिंक कनेक्टिविटी सपोर्ट करने वाला 7.0 इंच स्मार्टप्ले टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम आएगा। सुरक्षा के लिए इस में ड्यूल एयरबैग, एंटी-लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस), ईबीडी और आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट एंकर जैसे फीचर सभी वेरिएंट में स्टैंडर्ड मिलेंगे।

नई स्विफ्ट को ना पसंद करने की वजह

राइड क्वालिटी

नई स्विफ्ट का सस्पेंशन इस्तेमाल में थोड़ा हार्ड है, जिसका प्रभाव पीछे वाली सीटों पर देखने का मिलेगा। जब आप लंबी राइड पर जायेंगे या फिर गड्ढें वाले रास्ते से गुजरेंगे तो पीछे वाली सीट पर बैठे पैसेंजर को झटके लगने की शिकायत होगी।

जेड प्लस वेरिएंट में ऑटोमैटिक का अभाव

2018 मारूति स्विफ्ट के टॉप वेरिएंट जेड प्लस में एएमटी का विकल्प नहीं मिलेगा। ज्यादा फीचर और कंफर्ट की चाहत रखने वालों को ये निराश कर सकती है। कयास लगाए जा रहे हैं कि साल के आखिर तक कंपनी टॉप वेरिएंट में भी एएमटी का विकल्प दे सकती है।

यह भी पढें : क्या फर्क है नई और पुरानी मारूति स्विफ्ट में, जानिये यहां...


Source :  http://hindi.cardekho.com

  • Source
  • कारदेखो

FEATURE

MOST POPULAR