लैटिन अमेरिकी दिग्गजों के लिए विश्व कप-2018 आखिरी मौका | Vishvatimes

लैटिन अमेरिकी दिग्गजों के लिए विश्व कप-2018 आखिरी मौका

May 17 2018

 Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

 रूस में होने वाले फीफा विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने आठ लैटिन अमेरिकी टीमों में शामिल कुछ दिग्गज खिलाड़ियों के लिए यह विश्व कप आखिरी मौका हो सकता है। 14 जून से रूस के 11 शहरों में विश्व कप के मैच खेले जाएंगे।

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, भले ही लैटिन अमेरिका की टीमों में युवा खिलाड़ियों की संख्या बढ़ रही हो, लेकिन कुछ स्टार खिलाड़ी अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर अब भी टीम में बने हुए हैं और उनका कौशल रूस में देखा जाएगा। 

अर्जेटीना, कोलंबिया, कोस्टा रिका, मेक्सिको और उरुग्वे जैसी लैटिन अमेरिकी टीमों में शामिल विश्व कप खेलने वाले कुछ खिलाड़ियों की उम्र 31 साल की होगी। इसमें बर्सिलोना के लियोनेल मेसी भी शामिल हैं। उनका लक्ष्य अर्जेटीना को तीसरा विश्व कप खिताब दिलाना है। 

तीसरी बार खिताब जीतने की दौड़ में अर्जेटीना के अलावा, उरुग्वे की टीम शामिल है। इस टीम में दो बड़े स्ट्राइकर पेरिस सेंट जर्मेन के एडिसन कवानी और बार्का के लुइस सुआरेज हैं। दोनों 31 साल के हैं। 

कोस्टा रिका के केलोर नवास भी 31 साल के हैं, जो अपने देश को दूसरी बार विश्व कप खिताब जीताने के लिए प्रतिबद्ध हैं। कोलंबिया के फारवर्ड कार्लोस बाक्का की भी कुछ ऐसी ही कोशिश रहेगी। 

मेकिस्को टीम के पास आंद्रेस ग्वाडाडरे जैसे खिलाड़ी हैं। रियल बेतिस के मिडफील्डर का जन्म 28 सितम्बर, 1986 में हुअ था। अपने जीवन के 31वें साल में वह देश की राष्ट्रीय टीम के लिए चौथी बार विश्व कप खिताब जीतने की कोशिश करेंगे। 

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR