काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर परियोजना के उद्घाटन के बाद महीना भर चलेगा समारोह

November 21 2021

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

वाराणसी में काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर परियोजना के उद्घाटन के बाद महीने भर चलने वाले समारोह का आयोजन किया जाएगा, जो 13 दिसंबर को संभावित रूप से निर्धारित है। "उद्घाटन के साथ, 14 जनवरी, 2022 को मकर संक्रांति तक शहर में एक मेगा उत्सव शुरू होगा। किसानों, उद्योगपतियों, पर्यटन क्षेत्र, राजनीतिक हस्तियों, जन प्रतिनिधियों, राज्य कैबिनेट सदस्यों और समाज के सभी वर्गों के लोगों के प्रतिनिधिमंडल। देश काशी विश्वनाथ मंदिर और उसके आसपास के नए माहौल की एक झलक लेने के लिए यहां पहुंचेंगे। इसी अवधि के दौरान सभी राज्यों के तीर्थयात्री विशेष ट्रेनों और बसों से भी पहुंचेंगे।"


"प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा केवी धाम परियोजना के उद्घाटन के लिए अंतिम दिन अभी तक प्राप्त नहीं हुआ है, लेकिन हमें बताया गया है कि उद्घाटन समारोह 10 से 15 दिसंबर के बीच किसी भी दिन होगा। इसे लेकर सभी तैयारियां तेज कर दी गई हैं।"


केवीटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील वर्मा के अनुसार 700 करोड़ रुपये की इस परियोजना के पहले चरण का 85 प्रतिशत निर्मा ण और परिष्करण कार्य पहले ही पूरा हो चुका है और शेष काम नवंबर अंत तक पूरा कर लिया जाएगा, जिसके बाद परियोजना क्षेत्र उद्घाटन के लिए तैयार हो जाएगा।


वाराणसी के पुलिस आयुक्त, ए. सतीश गणेश ने कहा, "पुलिस ने मेगा समारोह के लिए यातायात और सुरक्षा योजनाओं को अंतिम रूप देने के लिए अभ्यास भी तेज कर दिया है। हमने सभी संभावित स्थलों की जांच की है, जहां पहले से ही हेलीपैड या ऐसे स्थान हैं जहां अस्थायी हेलीपैड हो सकते हैं। शहर की सीमा में वीआईपी आवाजाही के लिए बनाया जाए। वाहनों की सुचारु आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए उत्सव के समय के लिए यातायात योजना को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है।"


अधिकारियों ने बताया कि काशी विश्वनाथ मंदिर के उद्घाटन से पहले सुरक्षा उपकरण और गैजेट्स की खरीद और उनके इंस्टालेशन की प्रक्रिया को भी अंतिम रूप दिया जाएगा।


Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR