बिहार के दर्शकों में फिल्मों की समझ है : मुकेश तिवारी

December 08 2019

बिहार से जुड़ी घटनाओं पर बनी 'गंगाजल', 'अपहरण' जैसी हिट फिल्मों में अभिनय कर चुके मुकेश तिवारी का कहना है कि बिहार के दर्शकों में फिल्मों की समझ है। उन्होंने कहा कि वह एक बार फिर बिहार की घटनाओं पर ही आधारित एएए एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनने वाली फिल्म 'गैंग्स ऑफ बिहार' में नजर आएंगे।


मुकेश राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (नई दिल्ली) के अपने समय के सर्वश्रेष्ठ छात्र रहे हैं। पहली फिल्म 'चाइना गेट' के बाद उन्होंने 'गंगाजल', 'अपहरण' और 'गोलमाल' जैसी चर्चित फिल्मों में अपना छाप छोड़ी है।


मध्य प्रदेश के सागर में जन्मे और पले-बढ़े मुकेश का कहना है कि उन्हें शुरू से ही फिल्मों में अभिनय करने का शौक था, यही कारण है कि स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद वे राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय पहुंच गए।


मुकेश ने वर्ष 1998 में फिल्म चाइना गेट से फिल्मी करियर की शुरुआत की थी और उनकी कई फिल्में सफल रही हैं।


मुकेश ने गोलमाल सीरीज की फिल्मों के अलावा अब तक हिंदी सिनेमा की कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया है। फिल्म 'गैंग्स ऑफ बिहार' के निमार्ता मोहम्मद शफीक सैफी हैं, जिन्होंने जब यह ऑफर मुकेश के सामने रखी तो उन्होंने तुरंत इसे स्वीकार कर लिया।


आने वाली फिल्म 'गैंग्स ऑफ बिहार' के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "फिल्म के निर्देशक बिहार के वैशाली जिले के रहने वाले नीरज कुमार हैं। इसकी कहानी भी बिहार पर आधारित है।"


एक्शन वाले इस फिल्म में मुकेश महत्वपूर्ण चरित्र विजय यादव की भूमिका निभाएंगे।


मुकेश ने बताया, "इस फिल्म के संगीतकार अफरोज खान का संबंध बिहार के जहानाबाद जिला से है। फिल्म में बिहार के पत्रकार श्रीकांत प्रत्यूष भी एक अहम किरदार निभा रहे हैं।"


फिल्म की कास्टिंग क्रिसमस तक समाप्त हो जाएगी और होली में फिल्म के फ्लोर पर जाने की उम्मीद है।


Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR