भोजन की बर्बादी न होने दें, 'साफ थाली अभियान' खुद से शुरू करें

September 29 2021

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

29 सितंबर को खाद्य हानि और अपशिष्ट न्यूनीकरण पर जागरूकता का अंतर्राष्ट्रीय दिवस है। खाद्य पदार्थ, मानव जाति के अस्तित्व के लिए आवश्यक वस्तु है। इस वर्ष 12 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र खाद्यान्न और कृषि संगठन, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष और अन्य एजेंसियों द्वारा संयुक्त रूप से जारी विश्व में खाद्य सुरक्षा और पोषण की स्थिति शीर्षक रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2020 में दुनिया भर में लगभग 72 करोड़ से 81.1 करोड़ लोग भूखमरी का सामना कर रहे हैं, जो वर्ष 2019 की तुलना में 11.8 करोड़ बढ़ा है। दुनिया भर में कम से कम 15.5 करोड़ लोग गंभीर भूखमरी का सामना कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने इस वर्ष मई में जारी वैश्विक खाद्य संकट रिपोर्ट की प्रस्तावना में लिखा है: वर्तमान विश्व में आपातकालीन भोजन, पोषण और आजीविका सहायता की आवश्यकता वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है। 21वीं सदी में अकाल और भूखमरी नहीं होनी चाहिए। हमें एक साथ मिलकर इस समस्या से निपटने की जरूरत है।

हालांकि दुनिया भर में भूख से ग्रस्त लोगों की संख्या बढ़ रही है, रोजाना बड़ी मात्रा में भोजन की बर्बादी और हानि होती है। जांच सर्वेक्षण से पता चला है कि वैश्विक खाद्य उत्पादन का लगभग 14 प्रतिशत फसल और खुदरा के बीच खो जाता है। हर साल बर्बाद हुए खाद्य पदार्थ 103 करोड़ टन है, जो दुनिया के वार्षिक खाद्य उत्पादन का लगभग 17 प्रतिशत है, जिसमें घरेलू बर्बादी लगभग 11 प्रतिशत है, खाद्य सेवा अपशिष्ट लगभग 5 प्रतिशत है, और छुटपुट खाद्य अपशिष्ट 2 प्रतिशत है।

भोजन की हानि या बर्बादी का मतलब है कि पानी, मिट्टी, ऊर्जा, श्रम, समय और पूंजी सहित खाद्य उत्पादन में निवेश किए गए संसाधन बर्बाद हो जाते हैं। इसके अलावा, भोजन के नुकसान और बर्बादी से निपटने के लिए अपनाए गए गड्ढों की भराई वाले तरीके से ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन भी हो सकता है, जिससे जलवायु परिवर्तन बढ़ सकता है। खाद्य हानि और अपशिष्ट का खाद्य सुरक्षा और खाद्य आपूर्ति पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, जिससे खाद्य लागत बढ़ सकती है। इसलिए, मानव जाति और पृथ्वी की खातिर, हमें भोजन के नुकसान और बर्बादी को रोकना चाहिए।

प्राचीन समय से आज तक, भोजन को संजोना और खाद्य बचाना चीनी राष्ट्र के पारंपरिक गुणों में से एक है। चिलचिलाती धूप में, फसल बोता किसान है, अपने पसीने की बूदों से सींचता है उन्हें; भोजन की थाली में अन्न का एक-एक दाना, उसकी कड़ी मेहनत का फल है। यह कविता चीनी लोगों में इतनी लोकप्रिय है कि इसे छोटे बच्चे भी सुना सकते हैं, और हमेशा लोगों को भोजन और किसानों के श्रम के फल को संजोने के लिए प्रेरित करती हैं।

चीन ने संयुक्त राष्ट्र के आह्वान का सक्रिय रूप से पालन करते हुए भोजन को बचाने, नुकसान को कम करने और बर्बादी का विरोध करने में सकारात्मक योगदान दिया। खाद्य सुरक्षा कानून को प्रथम श्रेणी वाले कानूनों में शामिल किया गया, और देश ने खाद्य अपशिष्ट की रोकथाम और खाद्य संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए कानूनी प्रणाली और तंत्र की स्थापना की और सुधार भी किया है। इसके साथ ही अच्छी गुणवत्ता अनाज परियोजना के छह प्रमुख कार्यों के कार्यान्वयन को गहन रूप से आगे बढ़ाया जा रहा है, जिससे उत्पादन के बाद अनाज की हानि और बर्बादी को कम करने में बढ़ावा मिला है और उच्च स्तरीय राष्ट्रीय अनाज सुरक्षा की गारंटी मिली है। इस वर्ष 29 अप्रैल को, चीन में खाद्य-विरोधी अपशिष्ट कानून पारित होकर प्रभावी होने लगा।

साफ थाली अभियान चीन में एक बहुत लोकप्रिय शब्द है, जो चीनी लोगों के भोजन को संजोने और बर्बादी को खत्म करने की ठोस अभिव्यक्ति है, जिसका उद्देश्य किफायत की वकालत करना, बर्बादी का विरोध करना, लोगों से भोजन को संजोने और थाली में खाद्य-पदार्थों को पूरी तरह से खाने का आह्वान करना है। इस कार्रवाई को चीनी लोगों का व्यापक समर्थन मिला है। गत वर्ष 11 अगस्त को, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने महत्वपूर्ण निर्देश दिए और इस बात पर जोर दिया कि हमें भोजन की बर्बादी को पूरी तरह से रोकना चाहिए और बचत की आदत डालनी चाहिए, और पूरे समाज में शर्मनाक बर्बादी और बचत के गौरव का माहौल बनाना चाहिए।

तीस-चालीस साल पहले, कभी भूख का चीनी लोगों के जीवन से गहरा संबंध था। कुछ सुदूर पहाड़ी इलाके में लोगों के पास भोजन एकल और अनाज दुर्लभ था। लेकिन आज, चीन ने पूर्ण गरीबी को पूरी तरह से समाप्त कर दिया है और एक समग्र रूप से खुशहाल समाज का निर्माण पूरा किया। बीते कल की कड़वाहट को याद करके आज की मिठास का स्वाद चख सकते हैं। भोजन को संजोना, बर्बादी को खत्म करना लोगों की वास्तविक कार्रवाई की आवश्यकता है। साफ थाली अभियान हमें खुद से शुरू करना चाहिए। दिन में प्रत्येक भोजन के साथ शुरू करना चाहिए। केवल साथ मिलकर काम करने से हम भोजन की हानि और बर्बादी को कम कर सकते हैं, मानव जाति को लाभान्वित कर सकते हैं और पृथ्वी पर अपने घर की रक्षा कर सकते हैं।

(थांग युआनक्वेइ, चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)


Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR