पैरालंपिक (निशानेबाजी) : फाइनल में सातवें स्थान पर रहीं रूबीना

August 31 2021

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

भारत की पैरा निशानेबाज रुबीना फ्रांसिस यहां चल रहे टोक्यो पैरालंपिक के पी2-महिला 10 मीटर एयर पिस्टल एसएच1 फाइनल में सातवें स्थान पर रहीं और पदक हासिल करने से चूक गईं। रूबीना ने फाइनल में 128.5 का स्कोर किया और वह आठ निशानेबाजों के फाइनल में सातवें स्थान पर रहीं। रूबीना ने पहली बार पैरालंपिक में हिस्सा लिया और फाइनल में पहुंचीं। हालांकि, वह अपने डेब्यू पैरालंपिक में पदक लाने से चूक गईं।

इस इवेंट का स्वर्ण पदक ईरान की सारेह जवानमार्दी ने जीता, जिन्होंने 239.2 का स्कोर किया। तुर्की की आईसोगुल पेहलीवानलार 234.5 और हंगरी की क्रिस्टीना डेविड ने 210.5 के स्कोर के साथ क्रमश: रजत और कांस्य पदक अपने नाम किया।

इससे पहले रूबीना मंगलवार को यहां क्वालीफाइंग दौर में सातवें स्थान पर रही थीं। रुबीना ने 10 शॉट्स के छह राउंड में 91, 96, 95, 92, 93, 93 का स्कोर किया और दक्षिण कोरिया की किम यून-मी 560 अंकों के साथ छठे स्थान पर रहीं। लेकिन कोरियाई निशानेबाज ने बुल्सआई में 14 शॉट के साथ छठा स्थान हासिल किया जबकि रुबीना ने केवल 12 शॉट किए।

मध्य प्रदेश के जबलपुर की 22 वर्षीय रुबीना ने जून में पेरू के लीमा में विश्व कप के फाइनल में विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR