दिवाली पर घर वापसी के लिए रेडबस ने बुकिंग में बड़ी वृद्धि दर्ज की

November 03 2021

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

 त्योहारी सीजन अपने चरम पर है और दिवाली के लंबे सप्ताहांत के दौरान देश में रोशनी के त्योहार के करीब आने के साथ ही इंटरसिटी यात्रा की मांग भी बढ़ चुकी है। चूंकि दिवाली के आसपास बड़े शहरों में रह रहे कामकाजी लोग बड़ी संख्या में अपने गृह नगर लौटते हैं, इसलिए भारत के अग्रणी ऑनलाइन बस टिकटिंग प्लेटफॉर्म रेडबस ने अब तक दिवाली सप्ताह के लिए पिछले वर्ष की तुलना में की गई बुकिंग में 30 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। इस सीजन की कुल बुकिंग का लगभग 42 प्रतिशत मेट्रो और टियर-1 शहरों से है। रेडबस को पिछले साल की तुलना में टियर-2 और टियर-3 शहरों से भी मजबूत प्रतिक्रिया मिल रही है।

दिवाली सप्ताह के दौरान लगभग 20,000 दैनिक सेवाओं के साथ बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए 2500 से अधिक बस ऑपरेटरों और लगभग 21 सड़क परिवहन निगम इन दिनों काफी व्यस्त हैं। इन सेवाओं से 1 लाख से अधिक मार्गों पर 42.5 लाख यात्रियों के आवागमन की उम्मीद है, जिसमें सात दिनों में 94 करोड़ किलोमीटर की संचयी दूरी तय करने का अनुमान है।

रेडबस के अब तक के डेटा से पता चलता है कि बेंगलुरु सबसे ज्यादा यात्रियों का शहर है, जहां से लोग सबसे ज्यादा बुकिंग कर रहे हैं।

वर्तमान बुकिंग का लगभग 65 प्रतिशत राज्यों के भीतर यात्रा के लिए है और शेष 35 प्रतिशत अंतरराज्यीय यात्रा के लिए है। मौजूदा बुकिंग में से 72 फीसदी वातानुकूलित बसों में की गई है, जो पिछले साल 54 फीसदी थी।

शीर्ष पांच राज्य जहां रेडबस में यात्रा की उच्च मांग देखी जा रही है, उनमें तमिलनाडु, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और गुजरात शामिल हैं।

इस साल दिवाली के लिए, देश में सबसे छोटा इंटरसिटी बस मार्ग असम में गुवाहाटी और मखखोवा के बीच बुक किया गया है, जो 20 मिनट में 4.9 किलोमीटर की दूरी तय करता है और सबसे लंबा बेंगलुरु और थलोदी (राजस्थान) के बीच है, जो 37 घंटे में 2,086 किमी की दूरी को कवर करता है।

इस अवसर पर बोलते हुए, रेडबस के सीईओ, प्रकाश संगम ने कहा, हम दिवाली तक आने वाले दिनों में सकारात्मक यात्रा भावना को देखने के लिए उत्साहित हैं। देश भर में अप्रतिबंधित आवाजाही के लिए लगभग सभी बस मार्गों के साथ, उद्योग जगत पिछले डेढ़ साल में महामारी से प्रेरित घाटे को दूर करने के लिए अब मजबूती से अपने रास्ते पर है। हमारे साथी बस ऑपरेटर त्योहारी अवधि के लिए इस मांग को पूरा करने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, हम पूरी तरह से उम्मीद कर रहे हैं कि इंटरसिटी बस टिकट की मात्रा यहां से और बढ़ेगी, क्योंकि विश्वविद्यालयों के फिर से खुलने और कार्यालयों से भौतिक (फिजिकल) कामकाज को फिर से शुरू करने की बढ़ती प्रवृत्ति के साथ यात्राओं के बढ़ने की उम्मीद है।


Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR