पीएमजीकेएवाई-2 के अनाज का उठाव करें राज्य : राम विलास पासवान

July 10 2020

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान ने राज्यों से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) के दूसरे चरण के तहत मुफ्त अनाज वितरण समय सुनिश्चित करने के लिए भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के गोदामों से अनाज का उठाव करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि देश में हर जगह एफसीआई के गोदामों में अनाज का पर्याप्त अनाज उपलब्ध है और पीएमजीकेएवाई-2 के तहत कहीं अनाज की कमी नहीं होगी।

पासवान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि आठ जुलाई तक एफसीआई के पास 812.51 लाख टन अनाज का भंडार था जिसमें 267.29 लाख टन चावल और 545.22 लाख टन गेहूं शामिल है।

उन्होंने बताया कि पीएमजीकेएवाई, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) व अन्य कल्याणकारी योजनाओं के लिए हर महीने 95 लाख टन अनाज की आवश्यकता होती है।

पासवान ने कहा कि पीएमजीकेएवाई-2 के तहत जुलाई से लेकर नवंबर तक पांच महीने के दौरान मुफ्त अनाज वितरण के लिए कुल 202.75 लाख टन अनाज और 12 लाख टन आवश्यकता होगी।

कोरोना काल में अप्रैल से लागू पीएमजीकेएवाई के तहत देश में एनएफएसए के करीब 81 करोड़ लाभार्थियों में से प्रत्येक को पांच किलो अनाज और प्रत्येक लाभार्थी परिवार को एक किलो दाल देने का प्रावधान है। पासवान ने बताया कि एक जूलाई से लागू पीएमजीकेएवाई के दूसरे चरण में दाल के तौर पर एक किलो साबूत चना दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि पीएमजीकेएवाई-2 के तहत अगले पांच महीने मुफ्त अनाज वितरण पर कुल 76,062 करोड़ रुपये और चना वितरण पर 6,849 करोड़ रुपये खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रकार पीएमजीकेएवाई पर कुल खर्च 82,911 रुपये खर्च होंगे और इस योजना के कुल खर्च का वहन केंद्र सरकार करती है।

पीएमजीकेएवाई के पहले चरण में अप्रैल, मई, जून के दौरान मुफ्त अनाज वितरण के लिए कुल 104.3 लाख चावल एवं 15.2 लाख गेहूं का आवंटन किया गया जिसमें विभिन्न राज्यों ने 101.51 लाख टन चावल एवं 15.01 लाख टन गेहूं को मिलाकर कुल 116.52 लाख टन अनाज का उठाव किया।

मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, अप्रैल में कुल 74.14 करोड़ लाभार्थियों को कुल 37.43 लाख टन अनाज बंटा जो महीने के दौरान आवंटित अनाज का 94 फीसदी है। इसी प्रकार, मई में 73.75 करोड़ लाभार्थियों को 37.41 लाख टन अनाज बांटा गया जोकि कुल कोटे का 94 फीसदी है। जून के कोटे का अनाज हालांकि अब तक 64.42 करोड़ लाभार्थियों के बीच 32.44 लाख टन बंट पाया है, लेकिन वितरण जारी है। इसी प्रकार तीन महीनों के लिए 5.87 लाख टन दाल का आवंटन किया गया जिसमें से 4.66 लाख टन का वितरण हो चुका है।

कोरोना काल में पीडीएस के करीब 81 करोड़ लाभार्थियों को मुफ्त अनाज मुहैया करवाने की यह योजना एनएफएसए के तहत उनको मिल रहे सस्ते अनाज के अतिरिक्ति है।

Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR