छह दिनों की लगातार गिरावट के बाद हरे निशान में लौटा शेयर बाजार

May 17 2022

टेलीग्राम पर हमें फॉलो करें ! रोज पाएं मनोरंजन, जीवनशैली, खेल और व्यापार पर 10 - 12 महत्वपूर्ण अपडेट।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ें https://t.me/vishvatimeshindi1

चैनल से जुड़ने से पहले टेलीग्राम ऐप डाउनलोड करे

छह दिनों की लगातार गिरावट के बाद घरेलू शेयर बाजार रिएल्टी और दूरसंचार क्षेत्र में हुई लिवाली के दम पर सोमवार को हरे निशान में बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.34 प्रतिशत यानी 180.22 अंक की तेजी के साथ 52,973.84 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.38 प्रतिशत यानी 60.15 अंक की बढ़त के साथ 15,842.30 अंक पर बंद हुआ।


बीएसई में दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा छोटी और मंझोली कंपनियों पर निवेशक अधिक मेहरबान रहे। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में 18 कंपनियां हरे निशान में और 12 लाल निशान में रहीं।


विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच कारोबार के शुरूआती पहर में लिवाली का जोर रहा लेकिन कारोबार के अंतिम पहर में बिकवाली हावी हो गई। हालांकि, रिएल्टी, दूरसंचार, वाहन, बिजली और यूटिलिटीज के क्षेत्रों में रही लिवाली के दम पर शेयर बाजार लाल निशान में जाने से बच गया।


निफ्टी की 50 में से 33 कंपनियां तेजी में और 16 गिरावट में रहीं जबकि एक कंपनी के शेयरों के दाम दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद स्थिर बंद हुये।


विदेशी बाजारों में जापान का निक्के ई और हांगकांग का हैंगशैंग तेजी में बंद हुआ जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट में गिरावट रही। ब्रिटेन के एफटीएसई और अमेरिका के डाऊ जोन्स में तेजी रही।


जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि घरेलू निवेशकों की लिवाली के बावजूद शेयर बाजार की उड़ान को एफपीआई का रुख बाधित कर रहा है। उन्होंने कहा कि एफपीआई अमेरिका के बांड यील्ड में पैसे लगा रहे हैं।


Download Vishva Times App – Live News, Entertainment, Sports, Politics & More

  • Source
  • आईएएनएस

FEATURE

MOST POPULAR